पोप फ्राँसिस  ने कहा- सच्ची स्वतंत्रता ईश्वर के प्रेम से पैदा होती है। 

पोप फ्राँसिस ने बुधवार को ट्वीट कर सच्ची स्वतंत्रता के मर्म को समझाया और दूसरों की सेवा करने हेतु प्रेरित किया।
पोप फ्राँसिस ने बुधवारीय आमदर्शन समारोह में गलातियों के नाम संत पौलुस के पत्र से अपनी धर्मशिक्षा जारी रखी, जिसमें इस बात पर जोर दिया कि ख्रीस्तीय स्वतंत्रता दूसरों की सेवा करने में व्यक्त की जाती है। इसी के मद्देनजर उन्होंने ट्वीट कर दूसरों की सेवा करने हेतु प्रेरित किया।
संदेश में उन्होंने लिखा, “सच्ची स्वतंत्रता - मसीह में स्वतंत्रता - व्यक्तिगत हितों की तलाश नहीं करती है, लेकिन प्रेम द्वारा निर्देशित होती है और दूसरों की सेवा में व्यक्त की जाती है, विशेष रूप से गरीबों की सेवा में। प्रेम हमें स्वतंत्र बनाता है, यह हमें चुनने और अच्छा करने के लिए प्रेरित करता है, यह हमें सेवा करने के लिए प्रेरित करता है।”

Add new comment

7 + 5 =