कार्डिनल उरोसा साविनो के निधन पर पोप फ्रांसिस का शोक संदेश। 

संत पिता फ्राँसिस ने कराकास के सेवानिवृत महाधर्माध्यक्ष, कार्डिनल जॉर्ज उरोसा साविनो को याद किया, जिनका गुरुवार देर रात 79 वर्ष की आयु में निधन हो गया। वेनेजुएला के कार्डिनल को अगस्त के अंत में गहन देखभाल में भर्ती कराया गया था। कार्डिनल सविनो अंत तक वेनेजुएला वासियों की पीड़ा के बहुत करीब रहे, उन्होंने राजनीतिक नेताओं को देश में राजनीतिक संकट को खत्म करने हेतु शांतिपूर्वक काम करने के लिए आमंत्रित किया।
एक "समर्पित पुरोहित, जिसने वर्षों तक और निष्ठा के साथ, ईश्वर और कलीसिया की सेवा में अपना जीवन दिया," इस तरह संत पिता फ्राँसिस ने कार्डिनल जॉर्ज उरोसा साविनो को याद किया, वे काराकस, वेनेज़ुएला के सेवानिवृत महाधर्माध्यक्ष थे, जिनका गुरुवार 23 सितम्बर को  अस्पताल में निधन हो गया। कार्डिनल जॉर्ज लिबरेटो उरोसा साविनो 79 वर्ष के थे।
एक तार भेजकर, संत पिता फ्राँसिस ने मेरिडा के महाधर्माध्यक्ष और कराकास महाधर्मप्रांत के प्रेरितिक प्रशासक कार्डिनल बाल्ताजार एनरिक पोरस कार्डोजो, कार्डिनल उरोसा सविनो के परिवार और उसके कलीसियाई समुदाय के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त की।  संत पिता फ्राँसिस ने कहा कि वे कार्डिनल उरोसा की आत्मा की अनंत शांति के लिए प्रार्थना कर रहे हैं, प्रभु येसु उन्हें कभी न मुरझाने वाली महिमा का मुकुट प्रदान करें। संत पापा ने  "पुनर्जीवित प्रभु में ख्रीस्तीय आशा के संकेत के रूप में" उन्हें अपना प्रेरितिक आशीर्वाद प्रदान किया।
वेनेजुएला काथलिक धर्माध्यक्षीय सम्मेलन द्वारा जारी एक बयान के अनुसार, अगस्त के अंत में, उन्हें कोविड-19 से संक्रमित होने का पता चला और उन्हें वेनेज़ुएला की राजधानी के अस्पताल में गहन चिकित्सा इकाई में भर्ती कराया गया था।
दिवंगत कार्डिनल के शरीर को शुक्रवार को काराकस के संत अन्ना महागिरजाघर के अंदर आर्किपिस्कोपल "पांथियोन" में दफनाया गया। कलीसिया नौ दिनों का शोक मना रही है।
कार्डिनल उरोसा के निधन पर पूरे देश में गहरा शोक था। वेनेज़ुएला के सामाजिक, आर्थिक और राजनीतिक संकट का सामना करते हुए, उन्होंने लगातार "व्यक्तिगत और समूह के हितों को अलग रखने" का आह्वान किया, ताकि लोगों को और अधिक पीड़ा से बचाया जा सके।  उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि सभी के अधिकारों की रक्षा के लिए, अपने भाइयों और बहनों की मदद करने के लिए विशेष रूप से सबसे गरीब और हमारे गंभीर संघर्षों को शांतिपूर्वक हल करने के लिए एक साथ काम करना आवश्यक है। उन्होंने समाज और कलीसिया में एकता को बढ़ावा देने की मांग की। हाल के दिनों में, कार्डिनल द्वारा ईश्वर, कलीसिया और वेनेज़ुएला के लोगों के लिए अपने प्रेम को व्यक्त करने वाला एक संदेश सार्वजनिक किया गया था। अपने संदेश में, कार्डिनल ने कहा कि वे संस्कार प्राप्त करना चाहते हैं और उसने ईश्वर से वेनेजुएला की कलीसिया को आशीर्वाद देने हेतु प्रार्थना की ताकि वह हमेशा एकता में रहे।
उनकी मृत्यु के साथ, कार्डिनल मंडल में अब 218 कार्डिनल हैं, जिनमें से 121 निर्वाचक और 97 गैर-निर्वाचक हैं।

Add new comment

1 + 11 =