आगमन का चौथा रविवार मनाया गया”

दिनांक 20.12.2020 विश्व के कैथोलिक विश्वासियों ने, बैंगनी रंग की मोमबत्ती प्रज्वलित कर,अपने अपने गिरजाघरों में, आगमनकाल का चौथा और अंतिम रविवार मनाया। पवित्र मिस्सा के दौरान कोविड-19 की सावधानियां बरती गई।

रेड चर्च (संत फ्राँसिस असिसी कैथड्रल) इन्दौर में सुबह 07:00 तथा 08:30 बजे पवित्र मिस्साएं अर्पित की गई। अपने प्रवचन में फादर अन्थोनी सामी ने कहा- "मनुष्य जीवन भर ईश्वर की खोज में लगा रहता है। ईश्वर भी मनुष्य को खोजता है और इसके पहले कि मनुष्य ईश्वर को खोजे ईश्वर मनुष्य को खोज लेता है। वास्तव में ईश्वर मनुष्य के साथ व आसपास छोटे बच्चों की मुस्कराहट में, जरूरतमंदों की आवश्यकता में, गरीबों के झोपड़ों में, रोगियों के दुःख में, बंदियों के छुटकारे में रहता है। मनुष्य पहचान नहीं पता।  आज हम प्रतिज्ञा करें कि दुखी, बीमार, लाचार व गरीबों की मदद करने के द्वारा हम ईश्वर को पहचानगे तभी मन की शांति प्राप्त होगी। ऐसा करने से ही हम इस आगमन के चौथे रविवार को सार्थक बना सकेंगे।“

आत्मदर्शन टीवी पर पवित्र मिस्सा फादर सोनी अंतोनी द्वारा अर्पित की गई। फादर आनन्द ने संचालन किया।

रेड चर्च में फादर अन्थोनी सामी ने बैंगनी रंग की मोमबत्ती प्रज्वलित कर आगमनकाल के चौथे और अंतिम रविवार की पवित्र मिस्सा अर्पित की।

Add new comment

7 + 11 =